Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

बांदकपुर में भगवान जागेश्वर नाथ के बीआईपी दर्शनों पर बवाल.. भक्तों ने राहुल सिंह के साथ पुलिस प्रशासन हाय-हाय के नारे लगाए..

 जागेश्वर नाथ के बीआईपी दर्शनों पर मचा बवाल-
दमोह। भगवान जागेश्वर नाथ के धाम बांदकपुर में महाशिवरात्रि के मौके पर देश के कोने-कोने से भक्तों की भीड़ उमड़ने की वजह से दिन भर अफरा तफरी भरे हालात बने रहे। भौर होने के पहले से भक्तगण घंटो तक कतारों में लगकर भगवान जागेश्वर नाथ के दर्शन करने के लिए इंतजार करते रहे। यह क्रम दोपहर बाद तक चलता रहा। 
वहीं संध्या आरती के पूर्व दमोह से कांग्रेस विधायक राहुल सिंह को बीआईपी तरीके से दर्शन कराए जाने पर से घंटों से इंतजार कर रहे भक्तों का गुस्सा फूट पड़ा। देखते ही देखते राहुल सिंह हाय हाय के नारे बुलंद होते देर नहीं लगी। भक्तों की नारेबाजी को सुनकर तहसीलदार सहित पुलिस के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। मंदिर के गेट पर तैनात पुलिसकर्मी तथा पुजारी भक्तों को शांत करने की नाकाम कोशिश भी करते रहे।
भगवान जागेश्वर नाथ मन्दिर के पट खुलने के इंतजार में घंटों से खड़े भक्तों के लिए विधायक राहुल सिंह को सीधे वीआईपी प्रवेश दे दिया जाना इतना ज्यादा अखरा की भीड़ में आगे खड़े लोग राहुल सिंह के बाद देर तक पुलिस प्रशासन हाय-हाय के नारे लगाते रहे। इस दौरान कुछ पुलिस कर्मी मोबाइल से वीडियो बनाने तक सीमित रहे। बाद में राहुल सिंह के दर्शन करके निकल जाने के बाद भी बाहर करें भक्तों के बीच में अच्छी खासी नाराजगी मंदिर व्यवस्थापक तथा ड्यूटी पर लगे पुलिसकर्मियों के प्रति बनी देखी गई।
 उल्लेखनीय है कि महाशिवरात्रि के मौके पर बांदकपुर में भगवान जागेश्वर नाथ की भव्य बारात निकलती है जिस में सम्मिलित होने के लिए देश के कोने-कोने से हजारों की संख्या में भक्तगण यहां पहुंचते हैं। तथा सभी की इच्छा भगवान जागेश्वर नाथ की एक झलक पाने की होती है। ऐसे राहुलसिंह को सीधे प्रवेश दे देना घंटो से इंतजार कर रहे भक्तो के लिये असहनीय बनते देर नही लगी। इस दौरान राहुल सिंह खुद सफाई देने की कोशिश करते नजर आए। लेकिन घण्टो से खड़े लोग कुछ भी सुनने को तैयार नही हुए।
खासकर उस स्थिति में जब भगवान जागेश्वर नाथ शाम 
के समय दूल्हे के वेश में सजते हैं ।और ऐसे वक्त में विधायक राहुल सिंह को वीआईपी दर्शन करा देने पर से भक्तों में इस तरह से उत्तेजना नाराजगी का माहौल बनना स्वाभाविक बात था। और भीड़ इतनी अधिक थी कि भक्तो में नाराजगी बनना भी तय था। इस मामले के कुछ समय बाद एक और नजारा देखने को मिला। जब आम जनता के साथ कतार में लगे बड़ा मलेहरा से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न सिंह नजर आये। बता दें कि प्रदुमन सिंह दमोह विधायक राहुल सिंह के चचेरे भाई है।
 इस पूरे घटनाक्रम के बाद मंदिर प्रबंधन व व्यवस्थापक महाशिवरात्रि शिव बारात की व्यस्तता के चलते कुछ भी कहने से और मीडिया को अपना पक्ष देने से बचते रहे। वहीं विधायक राहुल सिंह से भी इस संदर्भ में कोई चर्चा नहीं हो सकी। लेकिन भक्तों की नारेबाजी और प्रदर्शन के जो वीडियो सामने आए हैं उन्हें देखकर और सुनकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि महाशिवरात्रि के दिन भक्त और भगवान के बीच मे आने से निशाने पर कांग्रेस विधायक राहुल सिंह के साथ पुलिस प्रशासन भी रहा।

अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments