Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कश्मीर के पुलवामा में आतंकीयो की कार ने CRPF जवानों की बस को उड़ाया.. 42 जवान शहीद, देश भर में आक्रोश का माहौल..

पुलवामा हमले में 42 जवान शहीद-

जम्मू कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवानों की संख्या 42 तक पहुंच गई है। वहीं हमले की खबर से देश भर में कठोर निंदा के साथ शहीदों को श्रद्धांजलि देने का दौर शुरू हो गया है। पाकिस्तानी आतंकवादियो को ईंट का जवाब पत्थर से दिए जाने की मांग जोर पकड़ चुकी है।
इस आत्मघाती हमले का शिकार 76Bn CRPF की बस  में जवान थे जो शहीद हो गए। जम्मू से कश्मीर की ओर जा रहे सीआरपीएफ की बसों की काफिले के बीच आतंकवादियों की  विस्फोटक से भरी एक कार के जरिए इस वारदात को अंजाम दिए जाने की जानकारी सामने आई है।
 आत्मघाती हमले को अंजाम देने वाला आदिल अहमद डार, पुलवामा के काकपोरा का ही रहने वाला बताया जा रहा है। वह पिछले साल फरवरी में जाकिर मुसा के गज़वत उल हिंद में शामिल होने के बाद आतंकी बना था. कुछ महीने पहले ही उसने जैश ज्वॉइन किया था।
पुलवामा में अवंतीपोरा के गोरीपोरा इलाके में सुरक्षाबलों के काफिले पर हुयेे हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। घाटी में काफी लंबे समय के बाद आतंकियों ने आत्मघाती हमले के जरिए सुरक्षाबलों पर बड़े हमले को अंजाम दिया है।
इस हमले के बाद देश की राजनीतिको के बीच बयान बाजी के साथ टीवी चैनलों पर तीखी बहस देखने को मिल रही है। वह अनेक नेताओं के ट्वीटर के जरिए भी बयान सामने आए है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर के लिखा कि बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलवामा में हमले के मद्देनजर स्थिति को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह व अन्य शीर्ष अधिकारियों से बात की है।
 राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल निगरानी रख रहे हैं. वह लगातार CRPF के वरिष्ठ अधिकारी से स्थिति की जानकारी ले रहे हैं। जम्मू कश्मीर के राज्यपाल के सलाहकार विजय कुमार ने गृह मंत्रालय के आला अधिकारियों के साथ मीटिंग की है। उन्होंने कहा कि जब भी आतंकवादी समूह पर दबाव पड़ता है, वे इस तरह का कृत्य करते हैं। 
 इस हमलेे में शहीद हुए जवानों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आने के साथ श्रद्धांजलि अर्पित की जा रही है। वहीं देश के कोने कोने में आतंकियों के खिलाफ आक्रोष भरे स्वर उभर रहे हैं ऐसे में केंद्र सरकार जल्द ही आतंकवादियों के खिलाफ कोई कड़ी कार्यवाही वाला कदम उठाएं ऐसी सभी उम्मीद कर रहे हैं।
आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को आत्मिक नमन और श्रद्धांजलि अर्पित करने में छोटी कस्बाई शहर में पीछे नहीं है। जम्मू-कश्मीर में जिस प्रकार हालात बेक़ाबू हो रहे हैं, उससे पूरे देश में आक्रोश जन्म ले रहा है. भाजपा सरकार को चुनावी राजनीति छोड़कर देशहित में सक्रिय होना चाहिए। ऐसी अपेक्षा आप सभी कर रहे हैं।
जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और पीडीपी की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने हमले की निंदा की है. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने इस हमले के बाद मोदी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर इस हमले की निंदा की है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी DG CRPF आरआर भटनागर से पुलवामा हमले के बाद बात की है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पुलवामा हमले पर ट्वीट करते हुए लिखा, पूरे देश में आक्रोश जन्म ले रहा है।

Post a comment

0 Comments