Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह सागर रोड पर बेहद दर्दनाक हादसा.. बस ने छात्र को कुचला, गुस्साई भीड़ ने बस में तोड़फोड़ करके लगाया जाम..

बाइक पर गेहूं पिसाने परसोरिया जा रहा था छात्र-
दमोह सागर मार्ग पर अमोदा तिराहे पर हुए दर्दनाक हादसे में एक तेज रफ्तार बस ने बाइक सवार छात्र को टक्कर मारते हुए चपेट में ले लिया। जिससे मौके पर ही छात्र की मौत हो गई। इस दर्दनाक हादसे के बाद गुस्साई भीड़ ने बस में तोड़फोड़ कर दी वहीं चालक की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जाम लगा दिया। करीब 2 घंटे तक दमोह सागर मार्ग पर आवागमन बाधित बना रहा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अमोदा निवासी विजय लोधी का पुत्र रंजीत 15 वर्ष कक्षा नौवीं का छात्र था।सोमवार शाम स्कूल से घर आने पर वह बाइक पर गेहूं की बोरी रखकर पिसाने के लिए परसोरिया जा रहा था। अमोदा तिराहे पर आते ही उसे सागर से जबलपुर की ओर जा रही तेज रफ्तार बस क्रमांक एमपी 20 पी ए 1677 ने अपनी चपेट में ले लिया दर्दनाक हादसे में छात्र के सर के ऊपर से बस का पहिया निकल गया।
 हादसे के बाद जो पहली तस्वीर सामने आई वह बेहद दर्दनाक थी। बस के पिछले पहिए के नीचे छात्र का शव पड़ा हुआ था पास में ही गेहूं की फ़टी हुई बोरी पड़ी हुई थी। जिसमे गेंहू के दाने भी चारो तरफ बिखरे पड़े थे। बेहद दुखद और दर्दनाक घटना की जानकारी लगते ही मौके पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई तथा उन्होंने बस से यात्रियों को नीचे उतारकर जमकर तोड़फोड़ कर दी। 
इस बीच मौका पाकर बस चालक मौके से फरार हो गया। समय रहते पुलिस के पहुंच जाने से आगजनी का शिकार होने से बस बच गई। इधर गुस्साए लोगों ने सड़क पर जाम लगाते हुए बस चालक की गिरफ्तारी और पीड़ित परिजनों को मुआवजे की मांग को लेकर चका जाम के हालात निर्मित कर दिए जिससे दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गई तथा गढाकोटा एवं सानोधा पुलिस के अधिकारी स्थिति पर नियंत्रण करने जुट गए। 


  बाद में सागर से एडिशनल एसपी विक्रम सिंह भी मौके पर पहुंचे तथा उन्होंने नाराज गुस्साए लोगों को समझाइश देते हुए कार्रवाई का भरोसा दिलाया इसके बाद ही चका जाम खत्म हुआ और आवागमन बहाली के हालात निर्मित हो सके। मंगलवार को पोस्टमार्टम के उपरांत मृतक छात्र का शव परिजनों को सौंपा जाएगा।
घटना के बाद से गांव में गमगीन माहौल बना हुआ है। तथा लोग यहां पर गति अवरोधक तथा संकेतक लगाए जाने की मांग भी कर रहे हैं। क्योंकि आए दिन अमोदा तिराहे पर तेज रफ्तार वाहनों की वजह से ग्रामीण जन हादसों के शिकार होते रहते हैं।
 नए वर्ष की पूर्व संध्या पर हु इस दुखद घटना क्रम में सभी को झकझोर कर रख दिया है परम पिता परमेश्वर दुखी परिजनों को यह गहन दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। कभी भी कोई इस तरह के हादसों का शिकार ना हो। ऐसी भावनाओं के साथ ओम शांति शांति शांति... गढ़ाकोटा से रवि सोनी की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments