Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

सतधरू क्षेत्र पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होगा.. पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया ने सतधरु परियोजना स्थल का जायजा लेते हुए कहा..यह जल परियोजना जिले वासियों के लिए भरपूर खुशहाली लाएगी..

सतधरू परियोजना का पूर्व मंत्री मलैया ने किया निरीक्षण 

दमोह। पद तो आते जाते रहते हैं कितने बड़े विधायक कितने बड़े मंत्री यह कोई याद नहीं रखता लेकिन जो एक काम जनता के हिट के लिए आप करके जाएंगे उसे सभी याद रखते हैं और उस समय सुकून मिलता है कि जिस भरोसे से लोगों ने आपको जनप्रतिनिधि बनाकर भेजा था आपने बह भरोसा कायम रखा है। यह बात मध्यप्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया ने कही..

आज पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया दमोह में चल रही विभिन्न परियोजनाओं में से एक सतधरू सिंचाई एवं पेयजल परियोजना का निरीक्षण करने पहुंचे थे। उन्होंने सर्वप्रथम डैम का निरीक्षण किया इसके पश्चात अधिकारियों के साथ चर्चा कर संपूर्ण जानकारी ली। बता दें कि अपने कार्यकाल में पूर्व वित्त मंत्री मलैया ने जिले में लगभग 3000 करोड़ की कई सिंचाई और पेयजल परियोजना स्वीकृत कराई थी उन्हीं में से एक परियोजना सतधारू डेम की है। जिससे करीब 700 गांव के लोगों को पीने का पानी मिलेगा 200 से अधिक गांव के लोगों को खेतों में सिंचाई का पानी उपलब्ध होगा। यह परियोजना लगभग पूरी हो चुकी है। डैम में पानी पर्याप्त मात्रा में भर गया है। पहले वर्ष डेम को केवल 70% ही भरा जाता है अगले वर्ष यह बांध अपनी पूरी क्षमता से भरेगा। वर्तमान में करीब 130 गांव के लोगों को पीने का पानी भी पहुंचने लगा है। उन्होंने बताया कि इस परियोजना को स्वीकृत कराने के लिए कई अड़चनें सामने आई थी लेकिन वह इस विभाग से जुड़े हुए थे जिस से उन्होंने दमोह के हित में सभी से स्वीकृति करा ली उन्होंने कहा कि आने वाला समय दमोह जिले वासियों के लिए खुशहाली का होगा।

इस डेम में खास बात यह है की 1350 करोड़ की इस परियोजना से 700 गांव में पानी पहुंचेगा इसकी क्षमता 65 एमसीएम है फिलहाल इसमें 40 एमसीएम पानी भर गया है 170 टैंक बनाए गए हैं जिन से ग्रामीण क्षेत्रों में जल सप्लाई की जाएगी अभी तक 130 टैंक बन चुके हैं दिसंबर तक लगभग सभी गांव में पानी पहुंच जाएगा, 20000 एकड़ में इस बांध से सिंचाई की जाएगी।

पर्यटन स्थल बनाएंगे- इस अवसर पर पूर्व मंत्री मलैया ने कहा कि सतधारू डेम को  पर्यटन स्थल बनाया जाएगा इसके लिए कार्य पूर्ण होने के बाद प्रयास किया जाएगा इसके सुझाव लगातार आ रहे हैं।

इस अवसर पर पूर्व विधायक लखन पटेल, जिला पांचायत सदस्य ऋषि लोधी, पूर्व जिला पंचायत सदस्य अवधेश प्रताप सिंह, अखिलेश हजारी, रमन खत्री, मनीष तिवारी, रवि महाराज, संतोष रोहित, इमलिया घाट सरपंच अजय लोधी, पार्षद मोनू राजपूत, विक्की सेन, टोनी राय,  नीलेश सिंघई, विशाल शिवहरे, रीतेश सोनी, तरुण जैन, किस्सू खरे, पप्पू खान, पवन विदोलिया, बंटी जैन, विकल्प जैन, सौरभ जैन, हरि रजक, धमेंद्र मिश्रा, रवि यादव, द्वारका पटैल, प्रीतम पटैल, आलोक जैन, रिंकू खजरी, छोटू दुबे, गोपाल ठाकुर, छोटू असाटी, विकास जैन, सहित बड़ी तादाद में डेम से जुड़े अधिकारी एवं ग्रामीणों जनों की मौजूदगी रही। मनीष तिवारी की रिपोर्ट

Post a Comment

0 Comments