Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

नवागत एसपी के पदभार ग्रहण करने के बाद कोतवाली पुलिस ने पकड़ी 60000 की अवैध शराब.. शराब दुकान के मैनेजर पर भी मामला दर्ज.. SP बदलने के बाद अब जिले के अन्य थाना क्षेत्रों में भी अवैध शराब और जुआ सट्टा पर सख्त कार्रवाई किए जाने की जन अपेक्षा बड़ी..

 कोतवाली पुलिस ने पकड़ी 60 हजार की अवैध शराब..


दमोह। कोरोना कर्फ्यू के दौरान प्रदेश भर में शराब दुकानो में भी तालाबंदी के बावजूद डबल रेट पर गली मोहल्लों से लेकर गांव गांव में अवैध शराब बिक रही है। इस दौरान भगवती मानव कल्याण संगठन से जुड़े लाल पट्टी धारी कार्यकर्ताओं द्वारा जरूर कुछ क्षेत्रों में अवैध शराब पकड़वाई जाती रही है लेकिन विभिन्न थाना चौकी पुलिस अपने क्षेत्र में बिकने वाली अवैध शराब को पकड़ने के मामले में उदासीन नजर आई है। एसपी तथा शहर टीआई बदलने के बाद पहली बार कोतवाली पुलिस द्वारा करीब 60000 कीमत की अवैध शराब पकड़े जाने की कार्रवाई सामने आई है। जिसके बाद जिले के अन्य क्षेत्रों में भी इस तरह की कार्यवाही की जन अपेक्षा की जाने लगी है।


पुलिस विभाग द्वारा जारी प्रेस नोट के अनुसार नवागत एसपी डीआर तेनीबार के निर्देशन में कोतवाली थाना प्रभारी सत्येंद्र सिंह के नेतृत्व में पुलिस स्टाफ द्वारा जटाशंकर कॉलोनी निवासी बल्लू उर्फ बालकृष्ण शर्मा के कब्जे से 180 पाव देसी प्लेन शराब एवं 130 पाव देसी मसाला शराब कुल 310 पाव शराब जिसकी कीमत 60 हजार रुपए बताई गई है जप्त की गई है। आरोपी बल्लू शर्मा द्वारा उपरोक्त शराब चैनपुरा देसी शराब दुकान के मैनेजर बल्लू राय के द्वारा खरीदा जाना बताया गया है। जिस पर कोतवाली में अपराध 425/2021 धारा 34(2) , 42 आबकारी एक्ट 188,269,270 ताहि 51 आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत पंजीबद्ध किया गया है आरोपी बल्लू शर्मा को गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश किया गया है वाइन शराब दुकान के मैनेजर बल्लू राय की पुलिस द्वारा तलाश किए जाने की बात कही गई है।
नवागत एसपी के पदभार ग्रहण करने के बाद जनापेक्षा बड़ी


उल्लेखनीय है कि आज ही नवागत एसपी डीआर तैनीबार ने दमोह पहुंचकर स्थानांतरित SP हेमंत चौहान से कार्यभार ग्रहण करने के बाद कोरोना कर्फ्यू मैं जिले की कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस अधिकारियों से चर्चा करते हुए समीक्षा की थी। इसी दौरान कोतवाली पुलिस की यह कार्यवाही सामने आई है दूसरी ओर जिले के अन्य थाना चौकी क्षेत्रों में अवैध शराब जुआ सट्टा का कारोबार कोरोना कर्फ्यू में धड़ल्ले से संचालित रहने के मामले में अब संबंधित थाना प्रभारी एक्शन मोड में आते हैं अथवा सब कुछ पुराने ढर्रे पर चलता रहेगा इसको लेकर फिलहाल इंतजार करना होगा। लेकिन आम जनमानस नवागत एसपी के साथ कोतवाली के नवागत किया इसे भी टीआई से भी यह अपेक्षा कर रहा है की शहर के साथ जिले भर में जुआ सट्टा के अवैध कारोबार पर अंकुश के साथ अवैध शराब बिक्री पर भी रोक लगाने कारगर कदम उठाकर कार्रवाई की जाए। वही कोतवाली क्षेत्र में लंबे समय से सटोरियों, जुआ फड़ संचालको, शराब माफियाओं से सांठगांठ बनाए रखने वाले कुछ चर्चित पुलिस कर्मियों की गतिविधियों पर नजर रखते हुए उन्हें लूप लाइन में भेजने की कार्रवाई की जाए। 
 जिला अस्पताल गेट पर शराबी ने फोड़ा था आटो का कांच..


कोरोना कर्फ्यू के दौरान शराब पीकर मद मस्त रहने वाले तत्वों की गुंडागर्दी का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बीती रात जिला अस्पताल के मेन गेट के सामने एक ऑटो रिक्शा चालक से बदतमीजी करते हुए एक शराबी ने पत्थर से ऑटो का कांच फोड़ने के बाद देर तक हंगामा किया था। अस्पताल चौकी पुलिस ने  शराबी को पकड़ने के बाद में छोड़ दिया था। जबकि ऑटो का कांच मेन गेट के सामने रात भर पड़े रहने से अस्पताल आने जाने वाले वाहनों तथा मेन रोड से निकलने वाले वाहन चालकों को परेशानी होती रही थी। यह घटना यह बताने के लिए काफी है कि किस तरह से लोग पीने के बाद अस्पताल जैसे संवेदनशील क्षेत्र में हंगामा गुंडागर्दी करने से नहीं चूक रहे हैं और पुलिस भी बिना कार्रवाई के बख्श रही है। वहीं कोतवाली पुलिस के कुछ चर्चित कर्मियों ने कल शाम सट्टा खिलाने वाले कई लोगों को पकड़ने के बाद जिस तरीके से छोड़ा है वह भी चर्चा का विषय बना हुआ है..

Post a Comment

0 Comments