Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

बांदकपुर मेले में लोडेड पिस्टल लेकर दहशत फैला रहे बदमाश को पुलिस ने पकड़ा.. इधर आवश्यक सुविधाओं के अभाव में परेशान हुए कांवड़ यात्री और श्रद्धालु.. शिव भक्तों ने एसडीएम को हालात से अवगत कराया..

बांदकपुर मेला में कट्टे की दहशत फैलाने वाला गिरफ्तार-
दमोह। भगवान जागेश्वर नाथ के धाम बांदकपुर में बसंत पंचमी के अवसर पर इस वर्ष भी बड़ी संख्या में पवित्र नदियों से जल लेकर कांवड़ यात्रियों का आगमन हुआ लेकिन उन्हें इस बार भी रात्रि विश्राम सहित अन्य आवश्यक सुविधाओं के अभाव से जूझना पड़ा है। इधर मेले में 12 बोर का लोडेड कट्टा लेकर दहशत फैला रहे एक बदमाश को पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल की राह दिखाने में देर नही की।
 बांदकपुर में बसंत पंचमी मेले के दौरान सनी खान नाम का युवक हाथ में देसी कट्टा लहराते हुए दहशत फैला रहा था। इसकी सूचना मुखबिर से मिलने पर बांदकपुर चौकी प्रभारी शत्रुघ्न दुबे ने प्रधान आरक्षक गोविंद बुधौलिया, रामेश्वर पटेल, आरक्षक संतोष रोशनी आदि के साथ पहुंच कर कार्यवाही करते हुए हिरासत में ले लिया। मामले में हिंडोरिया थाना प्रभारी सतेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपी यात्रा अपराधी है तथा उसके खिलाफ 25/27 आर एक्ट की कार्यवाही करते हुए कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।
बांदकपुर में श्रद्धालुओं को नहीं मिली आवश्यक सुविधाएं
बसंत पंचमी के अवसर पर बांदकपुर मेला में पुलिस द्वारा की गई बेहतर व्यवस्थाओं से जहां श्रद्धालु सुरक्षा के साथ बेफिक्री का अनुभव करते रहे वही मंदिर परिसर स्थित धर्मशाला, सुलभ कंपलेक्स, रेन बसेरा आदि में आवश्यक सुविधाओं का अभाव बना रहने से श्रद्धालुओं को गंदगी भर हालात के साथ कड़ाके की ठंड में खुले आसमान के नीचे रात बिताने को भी मजबूर होना पड़ा। 
इस दौरान पवित्र नदियों से भगवान जागेश्वर नाथ का अभिषेक करने के लिए जल लेकर पहुंचे कांवड़ यात्रियों को भी कड़ाके की ठंड में खुले परिसर में रात्रि विश्राम करने को मजबूर होते देखा गया। वही प्रसाधन सुविधाओं के अभाव में लोगों को खुले में लेट्रिन बाथरूम करने के लिए मजबूर होना पड़ा। जबकि धर्मशाला के अधिकांश कमरों में ताले डले रहने जैसे हालात भी देखने को मिले। 
जिसको लेकर शिवभक्त अपनी आपत्ति दर्ज कराते नजर आए। मेला अवसर पर व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए बांदकपुर पहुंचे एसडीएम रविंद्र चोकसे को  शिव भक्तों द्वारा उपरोक्त हालात से अवगत कराया गया तथा मंदिर कमेटी से जुड़े जिम्मेदार लोगों पर जागेश्वर नाथ के दरबार में आने वाली भक्तों की सुविधाओं की अनदेखी का आरोप भी लगाया गया।
 इस दौरान एसडीएम ने मन्दिर व्यवस्था से जुड़े लोगों से चर्चा भी की तथा भविष्य में बेहतर व्यवस्थाएं बनाने के लिए दिशा निर्देश भी दिए। वहीं शिव भक्तों द्वारा बसंत पंचमी के अवसर पर श्रद्धालुओं को हुई परेशानी तथा व्यवस्थाओं को लेकर सीधे तौर पर मंदिर कमेटी से जुड़े लोगों की अनदेखी को जिम्मेदार ठहराया गया।
होशियार चक्रवर्ती के साथ राजन असाटी की रिपोर्ट 

Post a comment

0 Comments